महाकाल मंदिर में बाबा महाकाल के दर्शन के लिए नए दिशानिर्देश जारी

मध्य प्रदेश के प्रसिद्ध मंदिर, महाकाल मंदिर के लिए नए दर्शन नियमों का ऐलान किया गया है। यह नियम धार्मिक स्थलों के दर्शन को सुगम और सुरक्षित बनाने का प्रयास है। नए नियमों के तहत, दर्शन करने वालों को कई संबंधित दिशानिर्देशों का पालन करना होगा।

मंदिर के प्रमुख नियमों में बदलाव

नए दिशानिर्देशों के अनुसार, मंदिर के दर्शन का समय सुबह 4 बजे से रात्रि 9 बजे तक रहेगा। इसके अलावा, अब दर्शन के लिए अलग से टिकट की आवश्यकता होगी। यह सुनिश्चित करने के लिए किया गया है कि एक समय में केवल निश्चित संख्या में लोग ही मंदिर में प्रवेश कर सकें।

मंदिर प्रशासन ने दर्शन के लिए व्यक्तिगत या समूह टिकटों को विक्रय के लिए ऑनलाइन प्लेटफॉर्म भी तैयार किया है। इसके साथ ही, व्यक्तिगत या समूह दर्शन के लिए टिकट की रिजर्वेशन पहले से ही कराना अनिवार्य होगा। इससे दर्शन के लिए लंबी कतारों की समस्या को निराकरण किया जा सकेगा।

मंदिर के प्रमुख पुजारी महेशपुरी ने बताया कि नए दिशानिर्देशों का पालन करते हुए आगामी दिनों में अधिक लोगों को मंदिर में प्रवेश दिया जा सकेगा। यह कदम मंदिर की सुरक्षा और सुगमता को बढ़ावा देने का हिस्सा है।

सुरक्षा के लिए प्रयास

मंदिर प्रशासन ने दर्शन के दौरान सामाजिक दूरी और हाथों की सेनेटाइजेशन को भी बढ़ावा दिया है। इसके अलावा, दर्शनार्थियों को मास्क पहनना अनिवार्य होगा। साथ ही, लोगों को मंदिर में प्रवेश करने से पहले तापमान की जांच करानी होगी।

इन सभी उपायों का उद्देश्य मंदिर के दर्शन को सुरक्षित और सुगम बनाए रखना है। यह नए नियम और दिशानिर्देश मंदिर की प्रबंधन और सुरक्षा में सुधार करने का प्रयास है। इससे आम लोगों को भगवान के दर्शन करने में भी आसानी होगी।

Leave a Comment